संजू सैमसन को मिला सोने का बतख, सुपर ओवर में स्कोर नहीं कर पाए, क्रिकेट में बढ़ी उन पर चर्चा

NeelRatan

संजू सैमसन को सुपर ओवर में गोल्डन डक, स्कोर नहीं कर पाने का सामना, क्रिकेट में गर्मी का सामना करते हुए।



भारतीय टीम के प्रशंसकों ने गोल्डन डक और सुपर ओवर में विफलता के बाद संजू सैमसन को निशाने पर लिया है। संजू सैमसन, जो पहले दो T20I में बेंच पर बैठना पड़ा था, ने अफगानिस्तान के खिलाफ तीसरे और अंतिम मुकाबले में भारतीय XI में वापसी की। सैमसन को पहले दो T20I में इंडियन टीम के विकेटकीपर के रूप में जितेश शर्मा की जगह खेलाया गया था। जितेश ने पिछले मुकाबले में डक खाकर अपनी विकेट गंवा दी थी, जिसके बाद सैमसन को बंगलुरु के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेलने वाले एक बार फिर से टीम में शामिल किया गया।

विराट कोहली ने अपने पहले गोल्डन डक को दर्ज किया है, जिसके बाद सैमसन ने भी पूरे खाते पर नहीं खोलकर अपनी विकेट खो दी। सैमसन ने पहले गेंद पर अपनी पुल शॉट को गलत टाइमिंग किया और फरीद अहमद को अपनी विकेट दे दी। भारत के बैटमिंटन यशस्वी जयसवाल (4), कोहली (0), शिवम दूबे (1) और सैमसन (0) का दिन बुरा रहा, क्योंकि भारत को 4.3 ओवर में 22-4 कर दिया गया। हालांकि, कप्तान रोहित शर्मा ने 121 रन की रिकॉर्ड तोड़ते हुए खेलते हुए और रिंकू सिंह ने 69 रन बनाए और भारत ने 20 ओवर में 212-4 का स्कोर बनाया। सैमसन, जो भारतीय टीम में अपनी जगह बनाए रखने में संघर्ष कर रहे हैं, को भारत और अफगानिस्तान के बीच 3 वें T20I में बैटिंग नहीं करने के लिए टीम इंडिया के प्रशंसकों ने निशाने पर लिया है।

पहले, सैमसन ने अपने मौकों को बर्बाद कर दिया था और वर्ल्ड कप दल में अपनी जगह के लिए दबाव बढ़ाने के लिए। दक्षिण अफ्रीका सीरीज में भारतीय दल में वापसी करने के बाद, सैमसन ने बोलंड पार्क में अपनी पहली शतक जड़कर अपनी कीमतों को बढ़ाया। सैमसन ने 108 रन बनाकर भारत को 78 रनों से हराया था। इसके बाद प्रमुख बैटर ने आयरलैंड सीरीज के बाद भारतीय T20I में वापसी की थी जब उन्हें अफगानिस्तान के खिलाफ चुना गया था।

सैमसन ने अफगानिस्तान सीरीज के लिए T20I दल में दो विकेटकीपरों में से एक के रूप में नाम दिया था। भारत को 6 विकेट से हराने वाले अफगानिस्तान के खिलाफ सीरीज के आगाज में जितेश ने भारत के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

संजू सैमसन के लिए आगे क्या है? अफगानिस्तान सीरीज टी20 वर्ल्ड कप से पहले भारत का अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

भारतीय टीम के प्रशंसकों ने संजू सैमसन को उनके बैटिंग के नो-शो के लिए निशाने पर लिया है। सैमसन को भारतीय टीम में अपनी जगह बनाए रखने में संघर्ष कर रहे हैं। उन्होंने अपने मौकों को बर्बाद कर दिया है और अब वे भारतीय प्रीमियर लीग (IPL) के 2024 संस्करण में राजस्थान रॉयल्स (RR) टीम की बैटिंग की जिम्मेदारी संभालकर वापस आने की उम्मीद करेंगे।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ अपने डेब्यू के बाद से, 30 साल के जितेश ने भारत के लिए 9 T20I खेले हैं।

यहां तक कि यह भारत के टी20 वर्ल्ड कप से पहले अंतिम T20I कार्यक्रम था। भारत ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से हराया था। भारत के लिए विकेटकीपिंग करते हुए, जितेश ने मेजबानों के लिए 20 गेंदों में 31 रन की मदद की थी। तीन मैचों की सीरीज में सैमसन के खिलाफ खड़े हुए जितेश को दूसरे T20I में 2 गेंदों में डक मिला था, जिसे भारत ने 6 विकेट से जीता था। नेपाल के खिलाफ


Leave a Comment