भारत का दावा: नए रूप में दिखे ऑस्ट्रेलियाई टी20 टीम के खिलाफ भारत ने जीता सीरीज

NeelRatan

भारत ने नए रूप में दिखने वाले ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ T20 श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंगार श्रृंग



भारत ने चौथे मैच में 20 रनों से जीतकर टी20 सीरीज में अजेय बना लिया है। इस मैच में अक्षर पटेल ने भारत की स्पिन हमले की अगुवाई की।

भारतीय स्पिनर्स ने रायपुर में खेले गए चौथे ट्वेंटी20 मैच में एक बदले हुए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 20 रनों से जीत हासिल की। भारत को बल्लेबाजी करने के बाद, शुक्रवार (शनिवार AEDT) को उनके अंतिम नौ गेंदों में पांच विकेट गिरकर 9-174 पर टिक गए, लेकिन उन्होंने वापसी की और ऑस्ट्रेलिया को 7-154 पर सीमित करके पांच मैचों की सीरीज में अजेयता हासिल की।

कप्तान मैथ्यू वेड (36 नहीं आउट) ने विश्व कप फाइनल के हीरो ट्रेविस हेड (31) के बाद धक्के मारकर अच्छी शुरुआत की, लेकिन ऑस्ट्रेलिया को अक्षर पटेल (3-16) और रवि बिश्नोई (1-17) ने बीच में बाध्य कर दिया।

जब बिजली के बिल न भरने के कारण स्थल पर फ्लडलाइट्स को चालू करने के लिए जनरेटरों पर निर्भरता थी, तो ऑस्ट्रेलिया ने तीन ओवर में 0-40 तक की बढ़त बनाई, फिर पटेल और बिश्नोई के प्रवेश ने पूरी चेस की रंगत बदल दी।

लेग-स्पिनर बिश्नोई ने जोश फिलिप (8) को गिराया जबकि पटेल ने खतरनाक खिलाड़ी हेड को हटा दिया – मुकेश कुमार को टॉप-एज स्वीप करते हुए टॉप-एज करते हुए – और आरन हार्डी (8) को हटा दिया।

पटेल ने फिर एंड बदलकर बेन मैकडरमोट (19) को गिराया और तिम डेविड (19) और मैट शॉर्ट (22) को आउट किया।

इसके बाद वेड, गुवाहाटी में ग्लेन मैक्सवेल शो के समर्थन करने वाले अभिनय में, अपने आप को बहुत कुछ करने के लिए छोड़ दिया, क्योंकि मांगने की दर बढ़ रही थी।

“हमने बीच में स्पिन को अच्छी तरह से नहीं खेला,” वेड ने कहा।

“वे चौथे और पांचवें ओवर में हमें पकड़ लिया था और उन्होंने हमें छोड़ा नहीं।

“स्पिन के खिलाफ खासा सुधार करने की कुछ क्षेत्रें हैं।”

यह एक बहुत अलग दिखने वाली ऑस्ट्रेलिया टीम थी जो अंतिम मैच के लिए मौजूद थी, जहां ऑफ-स्पिनर क्रिस ग्रीन ने अपने अंतरराष्ट्रीय डेब्यू में शामिल होने का मौका पाया, जबकि फिलिप, मैकडरमोट और बेन द्वारशुष भी मौका मिला, जबकि मैक्सवेल और दूसरे विश्व कप विजेता मार्कस स्टोइनिस और जोश इंगलिस ने घर लौट आए।

भारतीय पाठकों के लिए, युवा भारतीय टीम के लिए रिंकू सिंह (46) ने शीर्ष स्कोर किया, जो अपने आखिरी नौ गेंदों में बड़ी गिरावट की वजह से 200 के करीब के लक्ष्य के पास थी।

ओपनर यशस्वी जायसवाल (37) ने पहले हमलावर बनाया था जबकि उनकी गिरावट ने शुरुआती क्रमश: 3-13 को हिला दिया।

श्रेयस अय्यर (8) के बाद कैप्टन सूर्यकुमार यादव (1) ने बाउंडरी पर निकल दिया, जिसने द्वारशुष को उनके पहले टी20आई विकेट के साथ पेश किया।

रुतुराज गाइकवाड़ (32) को नियमित रूप से स्ट्राइक से वंचित किया गया था जबकि उन्हें कलाई-स्पिनर तनवीर संघा (2-30) का शिकार हो गया।

रिंकू और जितेश शर्मा (35) ने पांचवें विकेट के लिए 56 तेज रन बनाए और भारत को पूरी तरह से कमांड में रखने की धमकी दी।

जितेश का रवाना हो जाना, द्वारशुष को बाउंडरी पर हेड को लोफ्ट करने के लिए, नौवें ओवर में देरी की शुरुआत की, जिसने तीन विकेटों के साथ छः रन के लिए एक अच्छा डेथ ओवर बॉल किया।

क्वांटास टी20 भारत यात्रा

पहला टी20: भारत ने दो विकेट से जीत हासिल की

दूसरा टी20: भारत ने 44 रनों से जीत हासिल की

तीसरा टी20: ऑस्ट्रेलिया ने पांच विकेट से जीत हासिल की

1 दिसंबर: भारत ने 20 रनों से जीत हासिल की

3 दिसंबर: पांचवा टी20, बेंगलुरु

ऑस्ट्रेलिया टी20 स्क्वाड: मैथ्यू वेड (कैप्टन), आरन हार्डी, जेसन बेहरेंडोर्फ, शॉन अब्बोट (वापस लिया गया), टिम डेविड, बेन द्वारशुष, नेथन एलिस, क्रिस ग्रीन, ट्रेविस हेड, जोश इंग्लिस (वापस लिया गया), ग्लेन मैक्सवेल (वापस लिया गया), बेन मैकडरमोट, जोश फिलिप, तनवीर संघा, मैट शॉर्ट, स्टीव स्मिथ (वापस लिया गया), मार्कस स्टोइनिस (वापस लिया गया), केन रिचर्डसन, एडम जैम्पा (वापस लिया गया)

भारत टी20 स्क्वाड: सूर्यकुमार यादव (कैप्टन), रुतुराज गाइकवाड़ (उपकैप्टन), ईशान किशन, यशस्वी जायसवाल, तिलक वर्मा, रिंकू सिंह, जितेश शर्मा (विकेटकीपर), वाशिंगटन सुंदर, अक्षर पटेल, शिवम दुबे, रवि बिश्नोई, अर्शदीप सिंह, प्रसिद्ध कृष्णा, अवेश खान, मुकेश कुमार, श्रेयस अय्यर (केवल अंतिम दो मैच)

सभी मैच 12.30 बजे AEDT पर शुरू होते हैं।
सभी मैच फॉक्स क्रिकेट और कायो स्पोर्ट्स पर प्रसारित होते हैं


Leave a Comment