दक्षिण अफ्रीका वर्सस इंडिया: पर्यटकों की जीत, ऐतिहासिक न्यूलैंड्स टेस्ट में सीरीज को खींचने के लिए एक दिन और आधे में खत्म हुआ

NeelRatan

दक्षिण अफ्रीका बनाम भारत: पर्यटकों ने ऐतिहासिक न्यूलैंड्स टेस्ट में एक दिन और आधे में जीत हासिल करके श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगारिक श्रृंगार



भारत ने दक्षिण अफ्रीका को सात विकेट से हराकर इतिहास के सबसे छोटे टेस्ट में विजेता बनने के लिए केवल एक दिन और आधे दिन की आवश्यकता होती है। यह टेस्ट मैच ने एक अद्वितीय मुकाबला प्रस्तुत किया है।

पहले दिन केप टाउन में 55 रन पर साउथ अफ्रीका की पूरी टीम आउट हो गई। इसके बाद दूसरे दिन सुबह तक उन्होंने 176 रन बनाए। भारत ने इसे चेस करने के लिए 79 रन की जरूरत होती है।

भारतीय टीम ने लंच के बाद अपनी चेस शुरू की और वे जल्दी से लक्ष्य को पूरा करने के लिए तत्पर थे। यशस्वी जयसवाल ने शुरुआती क्रम में टी20 मोड में खेलते हुए अच्छा प्रदर्शन किया।

जब उन्होंने 28 रन बनाए तो उन्हें आउट कर दिया गया। शुभमन गिल और विराट कोहली को भी आउट किया गया, लेकिन श्रेयस अय्यर ने 12वें ओवर के आखिरी गेंद पर चार रन बनाकर एक यादगार जीत हासिल की।

यह दक्षिण अफ्रीका के कप्तान डीन एल्गर के लिए एक निराशाजनक समाप्ति है, जिसने इससे पहले अपने करियर का 86वां और अंतिम टेस्ट खेला है। लेकिन प्रोटीज की जीत ने यह सुनिश्चित कर दिया है कि भारत ने अब तक दक्षिण अफ्रीका में कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीती है।

इस टेस्ट मैच में 23 विकेट पहले दिन को गिर गए थे, और भारत ने जसप्रीत बुमराह के पांच विकेट से शुरुआत की, जो दूसरे दिन के पहले ओवर में ही दक्षिण अफ्रीका के बैटमें डेविड बेडिंघम को आउट कर दिया।

यह एक बाउंसी, जीवंत परत पर होने के कारण दक्षिण अफ्रीका फिर से धीमी गति से गिर गया। एकमात्र संघर्ष आइडेन मार्क्रम ने किया, जो 99 गेंदों में अपना सातवां टेस्ट शतक पूरा करने में सफल रहे।

उन्होंने मोहम्मद सिराज के हाथों अपना विकेट खो दिया और दक्षिण अफ्रीका ने 176 रन पर आउट हो गया।

भारत की चेस लंच के बाद शुरू हुई और वे लक्ष्य की ओर तेजी से बढ़ रहे थे। यशस्वी जयसवाल के बाद शुभमन गिल और विराट कोहली भी आउट हो गए, लेकिन श्रेयस अय्यर ने जीत को पुष्टि करने के लिए अंतिम गेंद पर चार रन बनाए।

यह भारत के लिए एक यादगार जीत है और दक्षिण अफ्रीका के लिए एक निराशाजनक समाप्ति। इससे पहले भारत की जीत के बावजूद दक्षिण अफ्रीका ने बॉक्सिंग डे टेस्ट में विजय हासिल की थी, जिससे यह सुनिश्चित हो गया कि भारत ने अब तक दक्षिण अफ्रीका में कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीती है।


Leave a Comment