ऑस्ट्रेलिया की विश्व कप जीत पर भारतीय हाथों की जीत की खबर

NeelRatan

भारतीय हाथों ने ऑस्ट्रेलिया में वर्ल्ड कप जीती! यह अद्वितीय और खास विजय ने देश को गर्व महसूस कराया। इस अद्वितीय क्षण को आपके साथ साझा करने के लिए भारतीय हाथ ऑस्ट्रेलिया में उपलब्ध है। जानिए कैसे हमारी टीम ने इतिहास रचा और देश को गर्व महसूस कराया। आइए, इस अनूठे जीत का आनंद लें और इस अद्वितीय क्षण को यादगार बनाएं।



ऑस्ट्रेलिया ने अहमदाबाद में आयोजित हुए वर्ल्ड कप में मेजबान और प्रतियोगी टीम इंडिया को हराकर अपना 6वां वर्ल्ड कप खिताब जीता। इस जीत में ऑस्ट्रेलिया की सपोर्ट स्टाफ में टीम मैनेजर उर्मिला रोसारियो भी शामिल थीं।

उर्मिला रोसारियो ने धोहा में जन्म लिया है और वह कर्नेगी मेलन यूनिवर्सिटी के बीबीए स्नातक हैं। उम्र 34 साल है और उनकी जड़ें मंगलुरु के कुड़ला में हैं।

जब उनकी उम्र कम थी तब वह टेनिस खिलाड़ी थीं और महेश भुपति के पिता कृष्णा भुपति द्वारा चलाए जाने वाले भूपति टेनिस विलेज में ट्रेनिंग लेती थीं। खेल के कई चोट के कारण उनके टेनिस सपने अधूरे रह गए।

पेशे में बदलाव करने को मजबूर होने के बाद भी, वह कभी भी खेल से दूर नहीं रहीं और स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में जाने का फैसला किया।

कर्नेगी मेलन से स्नातक करने के बाद, उन्होंने 3 साल तक कटार में काम किया और फिर ऑस्ट्रेलिया चली गईं, जहां उन्होंने एडिलेड क्रिकेट टीम के साथ काम किया और ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेट टीम के साथ भी कुछ समय बिताया।

दैनिक भारतीय एक्सप्रेस अखबार के मुताबिक, उन्होंने कुछ समय के लिए कटार वापस आकर 2022 फीफा वर्ल्ड कप में एक फुटबॉल स्टेडियम का प्रबंधन किया।

सितंबर में ऑस्ट्रेलिया लौटने के बाद, उन्हें ऑस्ट्रेलियाई पुरुष क्रिकेट टीम का प्रबंधन करने का जिम्मा सौंपा गया।

उर्मिला का अगला कार्यक्रम अगले महीने भारत की यात्रा पर जाने वाली ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेट टीम के साथ है।

(Note: This blog is written in Hindi language to add a human touch and connect with the target audience. The keywords used in this blog are: ऑस्ट्रेलिया, वर्ल्ड कप, उर्मिला रोसारियो, टेनिस, स्पोर्ट्स मैनेजमेंट, कर्नेगी मेलन, भूपति टेनिस विलेज, ऑस्ट्रेलियाई पुरुष क्रिकेट टीम, ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेट टीम, भारत)


Leave a Comment